Breaking

Sunday, January 20, 2019

Router क्या है ? यह कैसे काम करता है, जानिए

दोस्तों, हमारे पास इंटरनेट चलाने के दो सबसे बड़ा साधन है, जिसे से पहला SIM की इंटरनेट कनेक्टिविटी और दूसरा WIFI राऊटर से इंटरनेट कनेक्टिविटी| अगर हम SIM को मोबाइल में लगाकर चलाते हैं तो हम कही भी रहे हम इंटरनेट चला सकते हैं| लेकिन WIFI राऊटर के कनेक्टिविटी एरिया फिक्स होता है| वैसे SIM से इंटरनेट चलाने वाले हैं WIFI राऊटर से कनेक्ट कर इंटरनेट चलाने के इच्छुक होते हैं| लेकिन क्या आपको पता है राऊटर क्या है और कैसे काम करता है चलिए जानते हैं|
Router क्या है ?

आपको बता दें कि Router एक छोटा सा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होता है, जो वायर्ड या वायरलेस कनेक्शन के माध्यम से कई कंप्यूटर नेटवर्क को कनेक्‍ट करते हैं| Routers डिवाइस में सॉफ़्टवेयर होता हैं जो Router एक कंप्‍यूटर नेटवर्क को दूसरे कंप्‍यूटर नेटवर्क से कनेक्‍ट करता हैं या एक कंप्‍यूटर नेटवर्क को इंटरनेट से कनेक्‍ट करता हैं| इसलिए Route कि पोजिशन आपके मॉडेम और कंप्यूटर के बीच होती है|

नेटवर्क को इंटरनेट से कनेक्‍ट करने के लिए Route मॉडेम से कनेक्‍ट होना चाहिए| इसलिए ज्यादातर राउटर में एक विशिष्ट ईथरनेट पोर्ट होता है जिसे केबल या डीएसएल मॉडेम के ईथरनेट पोर्ट से कनेक्ट करने के लिए डिज़ाइन किया गया है|
Router कैसे काम करता है ?

जब राऊटर के पास कोई पैकेट आता है तो Router डेस्टिनेशन नेटवर्क का एड्रेस एवंइंटरनल राऊटरिंग टेबल चेक करने के बाद decide करता है की पैकेट को किस पोर्ट या नेटवर्क मे फॉरवर्ड करना है| Router एक Layer 3 नेटवर्क डिवाइस है और ये OSI मॉडल की नेटवर्क लेयर पर ऑपरेट करता है|

Router कि मेमोरी मे embedded operating system (O/S) स्टोर होता है जो की दूसरे OS की तुलना मे बहुत कम स्टोरेज स्पेस लेता है| वैसे राऊटर डाटा के फ्लो को नेटवर्क सेग्मेंट्स के बीच और hosts or routers के बीच मैनेज करने का process है| इस routing को मैनेज करने के लिए राऊटर एक टेबल मैनेज करता है जिसमे नेटवर्क के दूसरे routers की इन्फोर्मेशन स्टोर होती है|
Router कितने प्रकार का होता है ?

वैसे तो मार्केट के कई प्रकार के राऊटर मौजूद हैं लेकिन दो सबसे प्रमुख है|

1.Broadband Routers :- इस Routers का उपयोग कंप्यूटर नेटवर्क को दूसरे नेटवर्क से कनेक्ट करने या इंटरनेट से कनेक्ट करने के लिए किया जा सकता है|

2.Wireless Routers :- यह Router आपके घर या ऑफिस में वायरलेस सिग्नल बनाते हैं| इसलिए वायरलेस Router की सीमा के भीतर कोई भी पीसी, लैपटॉप या स्‍मार्टफोन इससे कनेक्ट हो सकता है और आपके इंटरनेट के उपयोग में आ सकता है| अपने वायरलेस राउटर को सुरक्षित करने के लिए आपको अपने वाई-फाई को स्‍ट्रॉंग पासवर्ड से प्रोटेक्‍ट करना होगा|

No comments:

Post a Comment