Breaking

Tuesday, January 1, 2019

सैलरी अकाउंट क्या है ? जानिए इसके फायदे

हम अगर साधारण भाषा ने बताएं तो जिस खाते में कर्मचारी का बेतन जमा होता है उसे बेतन खाता यानि सैलरी अकाउंट कहा जाता है| बता दें कि पहले कर्मचारीयों को कार्यलय के काउंटर में ही बेतन दिया जाता था| उसके बाद घिरे-घिरे चेक के द्वारा बेतन दिया जाने लगा| लेकिन उसके बाद फिर बैंकिंग के कार्य बढ़ने के वजह से और ऑनलाइन की सुविधा बढ़ने के वजह से बेतन का भुगतान ऑनलाइन अकाउंट में हो ट्रान्सफर कर दिया जाता है|
सैलरी अकाउंट के फायदे

न्यूनतम शेष रखने से पूर्ण या आंशिक छूट,
चैक बुक शूल्क में पूर्ण या आंशिक छूट,
एटीएम कार्ड के वार्षिक शुल्क में पूर्ण या आंशिक छूट,
राशि प्रेषण शुल्क में पूर्ण या आंशिक छूट,
व्यक्तिक ऋण(personal loan) स्वीकृत करने में प्राथमिकता, ऋण प्रसंस्करण प्रभार व ब्याज दर में छूट,
प्रतिभूति रहित अधिविकर्ष की सुविधा,
सैलरी लेट न आने की टेंशन नहीं|

No comments:

Post a Comment