Breaking

Monday, July 1, 2019

आज 1 जुलाई से बदल गया यह 6 नियम, पड़ सकता है आपकी जेब पर असर

दोस्तों, आज 1 जुलाई है और आज से हमें कई बदलाव देखने को मिलने वाला था, जिससे आपकी जेब और आपकी जिंदगी पर असर पड़ने वाला है| RBI ने ऑनलाइन पैसों के लेन-देन को लेकर कई बदलाव किये है, जो आज यानि 1 जुलाई से लागू है| इसके अलावा रसोई गैस, ट्रेन टाइम टेबल और जमा-मुनाफा जैसे कई बदलाव देखने को मिलने वाले हैं, जो आज के इस पोस्ट में बात करने वाले हैं|
बदल गया पैसों के लेन-देन से जुड़ा नियम

डिजिटल ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देने के लिए RBI ने RTGS और NEFT चार्ज खत्म कर दिया है| RTGS से बड़ी राशियों को एक खाते से दूसरे खाते में तत्काल ट्रांसफर करने की सुविधा है| इसी तरह एनईएफटी के जरिये दो लाख रुपये तक तत्काल ट्रांसफर किए जा सकते हैं|
अब कम मिलेगा मुनाफा

मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कटौती करने का फैसला लिया है| सरकार ने जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में 0.10 फीसदी की कटौती की है| इसका मतलब है आपको 1 जुलाई से 30 सितंबर तक कम मुनाफा मिलेगा| बता दें कि सरकार स्मॉल सेविंग्स स्कीम (Small Savings Scheme छोटी बचत योजनाओं) पर हर तिमाही में ब्याज दर तय करती हैं| यह सरकार पर निर्भर करता है कि वह कब इसमें बदलाव करे|
महंगा हो सकता है रसोई गैस सिलेंडर

हर महीने की तरह 1 जुलाई से रसोई गैस सिलेंडर की नई कीमतें जारी होंंगी| इससे पहले 1 जून को रसोई गैस की कीमतों में बढ़ोतरी हुई थी|
एक जुलाई से बदल जाएगी इन ट्रेनों की टाइमिंग

हर साल की तरह इस साल भी भारतीय रेल की समय सारणी में एक जुलाई से बदलाव हो रहा है| इसके साथ ही कुछ गाड़ियों के नाम भी बदल रहे हैं| वहीं नई ट्रेनों का परिचालन भी शुरू हो रहा है| रांची और हावड़ा के बीच एक ट्रेन शुरू हो रही है| यह ट्रेन सप्ताह में तीन दिन रविवार, सोमवार और मंगलवार को चलेगी| ट्रेन रांची से सुबह 5.45 बजे और हावड़ा से दोपहर 12.50 में चलेगी|

इसके साथ ही हटिया से शांकी के लिए पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन भी शुरू हो रहा है| यह ट्रेन हटिया रांची नामकुम, टाटीसिल्वे होते हुए शांकी पहुंचेगी. ट्रेन हटिया स्टेशन से सुबह 5.40 बजे और शांकी से 10.15 बजे खुलेगी|
इन सेविंग खातों के नियम भी बदलें

प्राथमिक बचत बैंक जमा खाता (बीएसबीडी) के मामले में नियमों को आसान कर दिया गया है| ऐसे खाताधारकों को चेक बुक और अन्य सुविधाएं उपलब्ध करायी जा सकेंगी| हालांकि, बैंक इन सुविधाओं के लिये खाताधारकों को कोई न्यूनतम राशि रखने के लिये नहीं कह सकते. ये नए नियम 1 जुलाई से लागू होंगे|

बीएसबीडी से आशय ऐसे खातों से है, जिसे शून्य राशि से खोला जा सकता है| इसमें कोई न्यूनतम राशि रखने की जरूरत नहीं है| इससे पहले नियमित बचत खाते जैसे खातों को ही अतिरिक्त सुविधा मिलती थी| अत: इन खातों में न्यूनतम राशि रखने की जरूरत होती है और अन्य शुल्क भी देने होते हैं|
1 जुलाई से बदल जाएगा SBI का नियम, 42 करोड़ ग्राहकों पर पड़ेगा असर

एसबीआई की ओर से कहा गया है कि 1 जुलाई से रेपो रेट से जुड़े होम लोन ऑफर किए जाएंगे| इसका मतलब यह हुआ कि अगले महीने से एसबीआई की होम लोन की ब्याज दर पूरी तरह रेपो रेट पर आधारित हो जाएगी| अगर इसे आसान भाषा में समझें तो रिजर्व बैंक जब-जब रेपो रेट में बदलाव करेगा उसी आधार पर एसबीआई की होम लोन की ब्‍याज दर भी तय होगी|

No comments:

Post a Comment